ये बीफ का भी समर्थन करते है, हिन्दुओ का विरोध करते है, क्यों इसे अब समझिये !



आपने अक्सर देखा होगा की बहुत सारे हिन्दू नाम वाले नेता गौमांस का समर्थन करते है 
इसे खाने की आज़ादी बताते है, और बहुत सारे और भी हिन्दू विरोधी बयान देते है 

फिर आप सोचते होंगे की ये लोग हिन्दू होकर भी ऐसे है 
यही तो आपकी ग़लतफ़हमी है, हम आपको 1 अच्छा उदाहरण देकर समझाते है 

आम आदमी पार्टी का एक नेता है, आशीष खेतान 
ये पहले तहलका नामक पत्रिका में पत्रकार था, वही पत्रिका जिसका संपादक था बलात्कारी तरुण तेजपाल 

आशीष खेतान ने अपने पत्रकारिता की शुरुवात ही हिन्दू विरोध से की 
गुजरात दंगों के बाद इसने हिन्दुओ को विलन के रूप में पेश किया, हाथों हाथ सेकुलरों और वामपंथियों ने आशीष खेतान को सर आँखों पर बिठा लिया 

जब NGO बाज यानि केजरीवाल, मनीष सिसोदिया ने आम आर्मी पार्टी बनाई तो आशीष खेतान भी इनके साथ आ गया, और तब से राजनीती में ही है 

ये सब आप जानते होंगे, पर अब वो जानकारियां लीजिये जो आप नहीं जानते 

आशीष खेतान नाम हिन्दू ही है 
पर इसकी पत्नी का नाम है - क्रिस्टीना लिंडा फर्नांडीज 

चलिए अब इसके 3 बच्चे है, उनके नाम देखिये 

एक है डैनियल, एक है जोए और एक है टिया, तीनो ही बच्चे ईसाई है 
और हिन्दू नाम में घूम रहे ये जनाब भी शादी के बाद ही ईसाई बन गए थे, पर क्या है न की हिन्दू नाम रखकर हिन्दू विरोध करना आसान होता है 

ऐसे बहुत से नेता घूम रहे है, हिन्दू नाम लगाकर 
और करते है गौमांस का समर्थन और देते रहते है अन्य हिन्दू विरोधी बयान, वहीँ सेक्युलर हिन्दू बिचारा 
मूर्ख बनता रहता है